Ego और Attitude: क्या से क्या बना देते है ये 2 शब्द आप को?

आज का समय तेजी से बदल रहा है और ये समय अपने साथ अपने साथ कई परिवर्तन भी ले आता है इंसान अपने आप को समय के अनुरूप ढाल लेता है और उसके साथ इंसान की सोच भी बदल जाती है इंसान की सोच समय से ज्यादा बदलती है इन्ही सोच के कारण एक इंसान के हमको कई रूप देखने को मिलते है अगर आपकी सोच अच्छी है तो ये आपको कभी भी गिरने नही देगी और अगर आपकी सोच में जरा सी भी Ego  और attitude की भावना जाती है तो ये आपको बहुत निचे गिरा देती है जिसका पता आपको तब चलता है जब आप सब कुछ खो देते है

जैसे जैसे हम बड़े होते जाते है हमारे अंदर का अहंकार भी हमसे कई ज्यादा बढ़ जाता है उस दिन हम सीखना छोड़ कर गलतिया करने लगते है और ये गलतिया आगे जा कर हमको एक गहरे अंधेरे में ले जाती है और वह से आना बहुत मुश्किल होता है

आखिर क्यों और कब पैदा होता है इंसान के अंदर Ego और Attitude?


 हर किसी को आगे बढ़ने की होड़ लगी रहती है और वो हमेशा से यही चाहता है की वो दुनिया में सबसे कामियाब इंसान बन जाये और सब उसकी सरहाना करे बस यही सोच के कारण इंसान के अंदर Ego  और Attitude  अपनी एक जगह बना लेता है और वो तब तक अपना बुरा असर नही दिखता जब तक  इंसान के इनसब को पूरी तरह नही  अपनाता और जैसे ही इंसान पूरी तरह इसके काबू में   जाता है तब ये अपना असली रूप दिखता है और  इंसान को पूरा बर्बाद कर देता है

आखिर किस तरह के Attitude  को अपने अंदर जगह दे?


अगर आपको  लगता है की attitude अच्छा  नही होता तो ऐसा मानना  गलत है attitude  अच्छा  भी होता है अगर आपके अंदर attitude  अच्छा  है  तो ये आपकी जिंदगी में कई परिवर्तन ले कर आता है और आपको कई अच्छी बाते भी सिखने को मिलती है और आपको मजबूत बनाता है जिससे आप अपनी परेशानियों को आसानी से काम कर सकते है।

क्या आप सच में अपने ego  और attitude  को कम करना चाहते है?  


अगर आप सच में अपने अंदर की नकारात्मक सोच को ख़तम करना चाहते है तो आपको इन सभी बातो पर गौर करना होगा

#1  आपका रवैया आप पर निर्भर करता है आप कैसा बनना चाहते है और आप अपने आपको किस दिशा की तरफ मोड़ना चाहते है ये सब आपको सोचना है इसमें कोई और आपकी मदद नही कर सकता सही समय पर लिया गया फैसला आपकी जिंदगी को एक नई राह  मिलती है   

#2  जो आपकी सोच है वही आपके व्यक्तित्व को दर्शाता है इसलिए अपनी सोच को बड़ा करे ताकि जो आप सोचते है वो लोगो तक पहुचे तब जा कर लोग आपकी अंदर की खूबी को पहचान सकेंगे'

#3 जहा तक हो सके सामने वाले की बात को समझे और उससे सिखने की कोशिश करे क्योकि जब तक आप सीखते है तब तक आप सही राह पर चल रहे होते है। 

#4  जहा तक हो सके गलत बातो को नजरअंदाज करे और अच्छी  बातो को सुनने की आदत डाले नकारात्मक विचारो को अपने अंदर जगह दे इनसब से दूर ही रहे। 

#5  कुछ भी कुछ देखे या सुने  सीखे क्योकि आपके साथ जो भी होता है वो कुछ कुछ जरूर सीखा कर  जाता है 

#6  अपनी नजर को अपने लक्ष्य पर रखे की किसी और जीत पर।  


Ego  और Attitude  अच्छा भी है और बुरा भी ये आप पर   निर्भर करता है की आप किसके साथ जाना चाहेंगे अगर आप ये  सोचते है की हर कोई आपकी गुलामी करे  तो एक बात हमेशा याद रखना की यही सोच  आगे चल कर आपको अपना गुलाम बना लेती है "Think Positive

Contact Us

Name

Email *

Message *