क्या कोई ऐसी मशीन नही है जो दिमाग का Pressure नाप सके

Exam शुरू हो गये है। जहाँ  भी देखो तो एग्जाम को लेकर हर कोई परेशान है। हर बच्चे के दिमाग में बस यही बात चल रही है की कैसे भी करे उनको सबसे अच्छे नंबर लाया जाये। एग्जाम तो आज से शुरू हुए है पर उसका Pressure तो School शुरू होने के वक्त से ही हर किसी के सर पर आ जाता है। यहाँ तक की घर वाले भी यही बोल बोल कर बच्चो के सर पर दवाब बनाते है की उनको सिर्फ पास नही होना बल्कि, सबसे अच्छे नंबरो  से पास होना है।

घर वाले तो घर वाले लेकिन यही बात स्कूल में पढ़ा रहे शिक्षको का भी यही हाल है वो भी  बच्चो के दिमाग में इतना प्रेशर बना देते है की बच्चे बहुत ज्यादा Depressed हो जाता है। कहने को तो इंसान को रोज 8 घंटे की नींद लेनी चाहिए, पर परीक्षाओ के समय बच्चे देर रात 1-2  बजे तक पड़ते है और सुबह 4-5 बजे उठ भी जाते है। ये सब बच्चे इसलिए करते है ताकि जितना कोई भी Topic छूट न जाये।

क्या देर रात तक जागने और सुबह जल्दी उठने से बच्चो की तबियत खराब नही होगी? क्या इस दिमाग का प्रेशर बढेगा नही? ये प्रश्न हर किसी के मन में क्यों नही आता।
हर साल Exam  के  Result निकलने के बाद कुछ बच्चे तो अच्छे नंबरो से पास हो जाते है और जो नही हो पते वो या तो डिप्रेस्ड हो जाते है या अपनी जान देते है। और कुछ बच्चे तो ऐसे भी है जो पास होने के बाद भी अपने Result  से संतुष्ट  नही होते और वो भी खुदखुशी कर लेते है।

ये इंजीनियर भी बड़े चालक है यार, दिल का प्रेशर नापने के लिए मशीन तो बना दी पर दिमाग पर जो प्रेशर होता है उसका क्या?  काश कोई ऐसा प्रेशर होता जिससे हम दिमाग का प्रेशर भी नाप सकते तो कोई भी खुदखुशी नही करता।

हर कोई यहाँ एक रेस में भाग रहा है। स्कूल हो या कॉलेज यहाँ पर बस आज कल पास होने के लिए और अच्छे नम्बरों से पास होने के लिए पढ़ाया जाता है। नई चीजो के बारे में कोई बात नही करता। अधिकतर लोगो का यही मानना  है की अगर नंबर अच्छे होंगे तो अच्छी सी नोकरी मिल जाएगी, जब ऐसा है तो फिर यू आज भी देश का युवा नोकरी के लिए दर दर भटकता है? क्यों उसको सरकारी नोकरी नही मिल पाती?

कोई भी Exam  स्टूडेंट का नॉलेज नही पता कर पाता, Exam सिर्फ आपकी Memory Check करता है। जिससे कारण अच्छे से अच्छा होनहार बच्चा भी अपने Result से दुखी हो जाता है और गलत कदम उठा लेता है।   Exam को लेकर दिमाग में ज्यादा load  न ले, Free-mind हो कर हर Topic कवर करे ताकि वो आपको Exam के बाद भी याद रहे। जिससे आपका नॉलेज भी बढ़ जायेगा,

अगर आप चाहते है की आप भी अच्छे नंबरो से पास हो और आपका नॉलेज भी बड़े तो आपको करना होगा कुछ ये आसान से नुस्खे :-


#1 Exam से डरे नही, बल्कि Relax हो कर पढ़ाई करे।

#2 रोज 8 घंटे की नींद ले।

#3 रटे  नही, समझने की कोशिश करे।

#4 पढ़ाई के बीच में थोड़ा दिमाग को Relax रखे।

#5 अच्छे गाने सुनने से भी दिमाग शांत रहता है।

#6 आपको  अपना  best effort देना है ; बस । 

#7  जो होता  है  अच्छा  होता  है । 

#8 Don’t worry कि “लोग क्या कहेंगे!!”

Suppose करते  हैं  दुनिया  में  तीन  तरह  के  लोग  होते  हैं :


A)       जो हमें सफल होते देखना  चाहते  हैं  : हमारे  parents,  family members, a few relatives and friends. Basically ऐसे लोग जिनसे हम emotionally बहुत  अधिक  attached होते  हैं।

B)      जो  हमें  असफल  होते  देखना  चाहते  हैं : वो  ऐसा  क्यों  चाहते  हैं ; I don’t know; इस  group में  कोई  भी  हो  सकता  है , कोई  fake friend, relative, पड़ोसी या कोई और।

C)       जिनको  हमसे  कोई  मतलब  नहीं  है।

जहाँ तक Exam और  उसके  results की बात है तो  सबसे  पहले  C type के  लोगों  को  भूल  जाइये ; क्योंकि  वो  भी  आपको  याद  नहीं  करते . Now, results को  लेकर  आपको  A type के लोगों  की  चिंता  नहीं  करनी  चाहिए , ये  आपकी  life के  pillars हैं , हर  परिस्थिति  में  आपके  साथ  खड़े  रहने  वाले , हाँ  ये  जरूर  हो  सकता  है  कि  ये  ऊपर से  ऐसा  न  दिखाएं  पर  इतना निश्चित है कि  इनसे  बड़ा  आपकी  life में  कोई  support हो  ही  नहीं  सकता।
A  ओर C  हो गए ; बचे  B type वाले , आप खुद  सोचिये  जो  लोग  आपको  असफल  होते  देखना  चाहते हैं  आपको  उन्हें  कितनी  importance देनी  चाहिए ….ज़रा  भी  नहीं ।  वो  जैसा  feel करते  हैं  करें , आपके  fail होने  पर  खुश  होते  हों  तो  हों …आपके   पास  होने  पर  रोते  हों  तो  रोएं , आपको   तो  उनपर  ध्यान  ही  नहीं  देना  है। क्योंकि  उनपर  ध्यान  देना  मतलब  अपनी  life में  negativity को  attract करना   , इसलिए  just  leave them। 


Tags :- Article In Hindi, Exam Time, Life story, Humorous stories, Storytelling, Incredible

Contact Us

Name

Email *

Message *