A short story on a sharp-witted crow

रहस्यमय मंदिर और उनकी अनोखी कहानियां

रहस्यमय मंदिर और उनकी अनोखी कहानियां


पहले के समय में जब मंदिर बनाए जाते थे तो वास्तु विज्ञान के आधार पर बनाये जाते थे। या कभी राजा-महाराजा अपने खजाने कोछुपाने के लिए उसके ऊपर मंदिर बना देते थे और एक ख़ुफ़िया रास्ता भी बनाया जाता था जिससे खजाने तक पहुँचा जा सके। पर क्या आप जानते है भारत में कुछ ऐसे मंदिर भी हैं जिनका न तो वास्तु से कोई लेना देना है, न ही किसी राजा के खजाने से, कुछ ऐसे मंदिर जिनका रहस्य आज भी छुपा हुआ है। आइये जानते है उन मंदिरो की कहानियां और उनका रहस्य।

अपने भारत में तो वेसे हजारों मंदिर है जिनके पीछे कोई न कोई कहानी छुपी है पर कुछ ऐसे मंदिर जिनकी कहानी आपको हैरान करके रख देगी। 

#1 करनी माता मंदिर या कहे चुहो का मंदिर

करनी माता का यह मंदिर जो राजस्थान के बीकानेर में स्थित, बहुत ही अनोखा मंदिर है। इस मंदिर में लगभग 20 हजार काले चूहे है। लाखों की संख्या में लोग और श्रद्धालु यहां अपनी मनोकामना पूरी करने के लिए आते हैं। करनी देवी को दुर्गा का अवतार माना जाता है, उनके इस मंदिर को ‘चूहों वाला मंदिर’ भी कहा जाता है।

यहां चूहों को काबा कहते हैं और उनके लिए बाकायदा भोजन भी तैयार किया जाता है और साथ ही साथ इनकी सुरक्षा भी की जाती है। यहां इतने चूहे हैं कि आपको अपने पैर संभल कर रखने पड़ते है। अगर एक चूहा भी आपके पैरों के नीचे आ गया तो अपशगुन माना जाता है। और अगर  एक चूहा भी आपके पैर के ऊपर से होकर गुजर गया तो शुभ माना जाता है। और सफेद चूहा दिख जाये तो आपकी मनोकामना पूर्ण हुई समझो।



#2 कन्या कुमारी देवी मंदिर

कन्याकुमारी देवी का यहाँ मंदिर, भारत के सबसे निचले हिस्से में है। यहां समुद्र तट पर ही कुमारी देवी का मंदिर है। यहां मां पार्वती के कन्या रूप को पूजा जाता है। यह देश में एकमात्र  यह मंदिर है जहां पुरूषों को अंदर आने से पहले कमर से ऊपर के कपङे उतारने होते है।

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, इस स्थान पर देवी का विवाह में रुकावट आगई थी। और बचा हुआ सारा भोजन कंकड़-पत्थर में तब्दील हो गये। इसलिए ही कन्याकुमारी के बीच या रेत में दाल और चावल के रूप और आकर वाले कंकड़ बहुत मिलते हैं। यहां सूर्योदय और सूर्यास्त का दृश्य काफी प्रसिद्ध है। हर सुबह विश्राम गृह की छत पर लोगों की भारी भीड़ सूरज के इंतजार में जमा हो जाती है।


#3 कामाख्या मंदिर

कामाख्या मंदिर को तांत्रिकों का गढ़ कहा गया है। माता के 51 शक्तिपीठों में से एक इस पीठ को सबसे महत्वपूर्ण माना जाता है। गुवाहाटी में स्थित इस मंदिर में त्रिपुरासुंदरी, मतांगी और कमला की एक अनोखी प्रतिमा भी मौजूद है। और इसी तरह की कई और प्रतिमाये दूसरे मंदिरो में स्थापित की गई है, जो मंदिर की शोभा और भी बढ़ा  देती है।

यहाँ का मुख्य पर्व अम्बूवाची के दौरान  मां भगवती की गर्भगृह स्थित -तीर्थ से निरंतर 3 दिनों तक जल-प्रवाह के स्थान से रक्त प्रवाहित होता है। कहने को तो कई किताबे और कहानियां है इस मंदिर की जिसमे इससे जुड़े हर रहस्य के बारे में लिखा गया है। लेकिन इसकी असली वजह कोई नही जान पाया।



#4 अजंता-एलोरा मंदिर

अजंता-एलोरा मंदिर महाराष्ट्र के औरंगाबाद शहर के पास स्थित‍ हैं। इस मंदिर की गुफाओ को बड़ी-बड़ी चट्टानें काटकर बनाया हैं। यहाँ लगभग 29 गुफाएं अजंता में तथा 34 गुफाएं एलोरा में मौजूद हैं। इन गुफाओं को वर्ल्ड हेरिटेज के रूप में जाना जाता है। कहा जाता है की इन सभी गुफाओं को राष्ट्रकूट वंश के शासकों द्वारा निर्मित किया गया था। इन गुफाओं के रहस्य पर आज भी कई शोध किये जा रहे  है। यहां कई ऋषि-मुनि और भुक्षि तपस्या और ध्यान करते थे।




Tags:- Article In Hindi, Incredible India, Facts About Temples, Unknown Places, Incredible Secrets About India 

Contact Us

Name

Email *

Message *