A short humorous story on Donkey and an imaginary rope

आखिर क्या नही कर सकती महिलाये-Women's Day

इतिहास के अनुसार विश्वभर में 8 मार्च के दिन अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस को मनाया जाता हैं। महिला शब्द में ही ममता, महानता और मानवता की झलक दिखाई पड़ती हैं। जीवन के हर क्षेत्र में महिलाएं अपनी प्रतिभा पुरूषों से बढ़ चढ़कर सिद्ध कर रही हैं….भारत में महिलाओं ने आज से ही नहीं सदियों पहले से ही खुद को साबित कर दिया था की उनमें कितनी शक्ति हैदुनिया के सबसे बड़े इंजन गूगल ने भी डूडल के जरिए आज महिला दिवस पर महिलाओं को सलाम किया हैं। आइए जानते  है उन महिलाओं के बारे में जिन्होनें रिती रवाज को अलग रख कर महिला की अलग परिभाषा को अंजाम दिया हैं।

#1 इंदिरा गांधी
इंदिरा गांधी को कौन नहीं जानता भारत की पहली महिला प्रधानमंत्री जिन्हें लेड़ी आरन भी कहा जाता हैपूरे विश्व में भारत का नेतृत्व करते हुए इंदिरा गांधी ने ये साबित कर दिया दिया था कि एक महिला देश को चलानें में पूर्ण रुप से सक्षम है इंदिरा ना ही सिर्फ भारतीय राजनीति पर छाईं बल्कि विश्व राजनीति में ऐसा इतिहास रचा है जिसे आज तक कोई छू तक नहीं पाया हैंइन्हे लौह-महिला के नाम से भी जाना जाता हैं।

#2 
प्रियंका चोपड़ा

प्रियंका चोपड़ा उन बॉलीवुड़ हसिनाओं में से एक हैं जिन्होनें 2000 में मिस वर्ल्ड जीतकर अपने दम पर फिल्मी जगत में पहचान बनाई हैं। ये सिर्फ ऐक्ट्रेस ही नहीं बल्कि गायिका और निर्माता के रुप में भी जानी जाती हैं। इन्हें पद्मश्री से भी भारत सरकार द्वारा सम्मानित किया गया हैं  आज प्रियंका सिर्फ बॉलीवुड तक ही सीमित नहीं हैं बल्कि अपनी इंटरनेशनल स्तर पर भी छाई हुई हैं।

#3 किरन बेदी


डॉकिरन बेदी ने बचपन में ही कुछ कर दिखाने का जज्बा था। ये समाजिक कार्यकर्ता और भारतीय पुलिस सेवा की प्रथम महिला अधिकारी थी। इन्हे ‘क्रेन बेदी’ के नाम से भी जाना जाता हैं क्योंकि इन्होनें पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की गाड़ी को क्रेन से उठवा लिया था। साल 2015 में भारतीय जनता पार्टी का हाथ थामकर राजनीति में प्रवेश किया। 

#4 
मिताली राज
                                   
मिताली राज ने महिला क्रिकेट में अपनी एक अलग छाप छोड़ी हैं। ये 2005 में हुए महिला विश्वकपकी कप्तान रही हैं। सिर्फ यही नहीं मिताली में 2010, 2011 और 2012 में आईसीसी वर्ल्ड रैंकिंग में प्रथम स्थान हासिल किया हैं। ये राजस्थान जोधपुर जिले की रहने वाली हैं..मिताली को अर्जुना पुरस्कार से भी नवाजा गया हैं।

#5 
कल्पना चावला

भारत की बेटी कल्पना चावला हरियाणा के करनाल जिले की रहने वाली थीकिसी ने ये सोचा भी नहीं था कि भविष्य में ये अंतरिक्ष में उड़ान भरकर आसमान छुएंगी। कल्पना भारतीय अमरीकी  अंतरिक्ष यात्रियों में से एक थी और अंतरिक्ष में जाने वाली पहली भारतीय महिला थी। लेकिन अंतरिक्ष से लौटते वक्त उनकी मृत्यु हो गई थी लेकिन वो आज भी हर किसी के दिल में जिंदा हैं

#6 सानिया मिर्जा


सानिया मिर्जा भारत की टेनिस खिलाड़ी हैं जिनका जन्म माहाराष्ट्र के मुंबई में 15 नवम्बर 1986 में हुआ था। इन्होनें अपने करियर की शुरूआत 1999 में विश्व जूनियर टेनिस चैम्पियनशिप में हिस्सा लेकर की थी। इसके बाद उन्होनें अपने कदम नहीं रोके और अंतरराष्ट्रीय मैचों में हिस्सा लेकर सफलता हासिल की  सानिया ने टेनिस में भारत की एक नई पहचान बनाई साथ ही उन्होंने डब्लस में प्रथम स्थान भी हासिल किया है 

#7  
रिचा अनिरुद्ध
रीचा अनिरुद्ध मीडिया जगत की मशहूर प्राइम टाइम एंकर हैं। ये उत्तर प्रदेश की झांसी की रहने वाली हैं, इन्होंने अपने करियर की शुरुआत दूरदर्शन न्यूज चैनल से की थी। बाद में इन्होनें आईबीएन 7 न्यूज चैनल जॉइन करा जिसमें एक शोजिन्दगी लाइवकी मदद से सामाजिक मुद्दे उठाएं। इस शो से रिचा ने काफी सुर्खियां बटोरी और दर्शकों के दिल में खास जगह बना ली।






#8  नीरजा

5 सितंबर सन् 1986 के दिन कराची एयरपोर्ट पर 4 फिलिस्तीनी आतंकवादियों ने पैन एम फ्लाइट-73 को हाइजैक कर लिया था। तब उस फ्लाइट में नीरजा भनोट फ्लाइट अटेंडेंट के तौर पर मौजूद थी और फ्लाइट में 360 पैसेंजर थे। इस दौरान नीरजा ने आतंकवादियों से लड़कर सारे यात्रियों की जान बचाई थी। नीरजा को सिर्फ भारत में ही नहीं देश भर में कई पुरस्कारों से नवाजा गया।

आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के दिन हमने आप को उन मशहूर हस्तियों के बारे में बताया जिन्होंने पुरुष प्रधान समाज में अपनी एक नई पहचान बनाई और लाखों लोगों को एक नई प्रेरणा दे गई


Tags:- Hindi Article, Women Empowerment, Stop Rape, Incredible, My
 Life, Facts Of Life

Contact Us

Name

Email *

Message *