A Article in Hindi-भगवान का अपमान किये बिना भी एक कामयाब फिल्म बनाई जा सकती है|

 A Article in Hindi - भगवान का अपमान किये बिना भी एक कामयाब फिल्म बनाई जा सकती है|


बॉलीवुड, फिल्म इंडस्ट्री की ऐसी दुनिया जो अपने बेशुमार रिकॉर्ड्स  के कारण बहुत ही प्रसिद्ध है| हर साल बॉलीवुड में कोई फिल्म बेहतरीन रिकॉर्ड बनाती  है| और कई ज्यादा उपलब्धियां हासिल करती है| अब बात दंगल की ले लो जो हर दिन कोई न कोई रिकॉर्ड्स तोड़ रही है, जिसने पूरी दुनिया में में अलग मुकाम हासिल किया है| और दूसरी तरफ एक और फिल्म जो बॉलीवुड का हिस्सा तो नहीं है लेकिन इस फिल्म ने मुकाम हासिल किया है वप आजतक किसी भी फिल्म ने नहीं  है|
 A Article in Hindi - भगवान का अपमान किये बिना भी एक कामयाब फिल्म बनाई जा सकती है|

बाहुबली फिल्म आने से ऐसी कई बाते है जो उन लोगो की सोच बदलकर रख दी है जिन्होंने अपनी फिल्म को कामयाब बनाने के लिए सारी हदें पार की है| इस फिल्म ने ये साबित कर दिया है की भगवान का अपमान किये बिना भी एक कामयाब फिल्म बनाई जा सकती है|

कुछ लोग आज भी बाहुबली को लेकर ये सोच रहे है की आखिर इस फिल्म में ऐसा  लगातार इतना पैसा कमा रही है| तो आइये आज उन लोगो को पता चल जायेगा की आखिर ऐसा क्या है इस फिल्म में जो बाकि की फिल्मो से इसको अलग करती है|

 A Article in Hindi - भगवान का अपमान किये बिना भी एक कामयाब फिल्म बनाई जा सकती है|
#1 बाहुबली के क़ामयाब होने के पीछे पहला बड़ा कारण ये है की इस फिल्म में हिन्दू भगवन का मान रख गया है| भगवान को सम्मान देकर उनका महत्व बताया है|  लेकिन इसके अलावा बाकि फिल्म जैसे PK जिसमे भगवान को दर्शाया तो है लेकिन सिर्फ उनके खिलाफ जा कर ही पैसा कमाया गया है| 

#2 बाहुबली के क़ामयाब  होने का दूसरा सबसे बड़ा कारण ये है की इस फिल्म में महिलाओं  को एक अलग रूप दिया है इस फिल्म में महिलाओ की बहादुर बताई गई है और ये भी बताया गया है की हर महिला के अंदर एक योद्धा होता है| महिला अगर हाथ में चुडिया पहन सकती है तो उसी हाथ से वो तलवार भी उठा सकती है|  बाकि फिल्मो की बात की जाये तो फिल्मो में महिलाओ को बस एक पैसा कमाने का जरिया बना दिया गया है| ताकि लड़कियों को छोटे छोटे कपडे पहने और उनको देखने के लिए लोग बार बार आये| 
 A Article in Hindi - भगवान का अपमान किये बिना भी एक कामयाब फिल्म बनाई जा सकती है|

#3 बाहुबली के सफल होने का तीसरा कारण, बड़ो का सम्मान और वचन का महत्व, जो आज कल की फिल्मो में तो देखने को भी नहीं मिलता है| इस फिल्म में बताया गया है की बड़ो की बात का मान क्या होता है, माँ का प्यार क्या होता है| और वचन जो आज कल तो सुनने को भी नहीं मिलता है, और इसमें वचन बनाये रखने के लिए कुछ किया जा सकता है| 
 A Article in Hindi - भगवान का अपमान किये बिना भी एक कामयाब फिल्म बनाई जा सकती है|

#4 बाहुबली की सफलता का चौथा कारण, महिलाओं का मान, जैसे अपने अमरेंद्र बाहुबली के मुख से ये सुना होगा "लड़कियों पर हाथ डालने वाले की उँगलियाँ नहीं काटते, काटते है उसका गला" ये बात जिसने महिलाओ की सुरक्षा के लिए एक नया कदम बताया है| बाकि की फिल्मो की तरह नहीं की पहले महिलाओ को पूरी तरह से बदनाम कर दो उसके बाद आखिर में आरोपी को सजा दो| 

Comments

Popular posts from this blog

Ego और Attitude: क्या से क्या बना देते है ये 2 शब्द आप को?

Emily Rose- Anneliese Michel की एक सच्ची कहानी