Difference Between Yoga And Gym-स्वस्थ जीवन के लिए क्या जरुरी है योग या जिम?

Difference Between Yoga And Gym-स्वस्थ जीवन के लिए क्या जरुरी है योग या जिम?

योगेन चित्तस्य पदेन वाचां ।
मलं शरीरस्य च वैद्यकेन ॥
योऽपाकरोत्तमं प्रवरं मुनीनां ।
पतञ्जलिं प्राञ्जलिरानतोऽस्मि ॥
 Difference Between Yoga And Gym-स्वस्थ जीवन के लिए क्या जरुरी है योग या जिम?

अर्थ- योग से चित्त का, सयम से वाणी का व योगदर्शन से शरीर का मल, जिन्होंने दूर किया, उन मुनि श्रेष्ठ योग ऋषि पतंजलि जी को मैं साष्टांग प्रणाम करता हूँ | 


  Difference Between Yoga And Gym-स्वस्थ जीवन के लिए क्या जरुरी है योग या जिम? Difference Between Yoga And Gym-स्वस्थ जीवन के लिए क्या जरुरी है योग या जिम?
जब भी हम कभी स्वास्थ्य से सम्बंधित चर्चा करते है या सुनते है|हमारे मस्तिष्क में योग और जिम दोनों बातो का आना स्वाभाविक है| Difference Between Yoga And Gym को जानने के लिए हमारे मन में कौतुहल होना भी स्वभाबिक है आज हम आपकी शंकाओ के समाधान करने की कोशिश करने का प्रयास करेंगे|तथा स्वस्थ जीवन के लिए क्या जरुरी है योग या जिम? इसके सम्बन्ध में आपको  विस्तृत जानकारी प्रदान करेंगे तथा आपको किस प्रकार स्वस्थ रहना है? आपके स्वस्थ रहने के लिए क्या बेहतर उपाय है? जिम और योग दोनों में से क्या प्रभावी रूप से परिणाम देगा इसकी संपूर्ण जानकारी भी आपको देंगे|

आपके लिए क्या बेहतर विकल्प योग या जिम

किसी भी मनुष्य के लिए स्वस्थ रहना उसके स्वयं के लिए एवं उसकी प्रगति के लिए आवश्यक होता है|आज वर्तमान समय में स्वस्थ रहने के लिए विभिन्न प्रकार की नवीन सुलभ सुविधाएं उपलब्ध है| परन्तु आपको यह जानकर हैरानी होगी प्राचीन काल में मनुष्य वर्तमान समय से अधिक स्वस्थ एवं समृद्ध था|
 Difference Between Yoga And Gym-स्वस्थ जीवन के लिए क्या जरुरी है योग या जिम?

Difference Between Yoga And Gym- योग और जिम में क्या अंतर है ? 

प्राचीन काल में लोगो की आयु अधिक होती थी और उनका शरीर स्वस्थ तथा ऊर्जा से भरपूर होता था|आज भी हमारे दादा जी दादी जी नाना जी नानी जी हमसे अधिक ऊर्जावान एवं स्वस्थ है|क्या उन्होंने कभी जिम ज्वाइन की है? नहीं! परन्तु फिर भी हमसे अधिक स्वस्थ रहते है| इसका एकमात्र कारण उनके द्वारा नियमित योग करने से संभव होता है| अगर हम योग और जिम की तुलना करते है| या Difference Between Yoga And Gym  पता करने की कोशिश करते है|तो तब आपको पता चलेगा योग का महत्व स्वस्थ जीवन में बहुत बढ़ जाता है|

वास्तव में योग और जिम का अंतर पता करने या Difference Between Yoga And Gym जानना नैसर्गिक प्रतीत नहीं होता है| आपको योग के लाभ जानकर यह निर्णय करने में आसानी हो जाएगी आपके स्वस्थ्य के लिए क्या उचित है|जिम करने से आपको तात्कालिक परिणाम प्राप्त होते है|परन्तु योग आपको जीवन पर्यन्त परिणाम प्रदान करता है| 

  योग के लाभ - Benefits Of Yoga    

 Difference Between Yoga And Gym-स्वस्थ जीवन के लिए क्या जरुरी है योग या जिम?
  • आपको योग करने के लिए पैसे खर्च नहीं करने होते 
  •  इसके लिए विशेष सामग्री की आवश्यकता भी आपको नहीं होती है
  •  आप घर पर रहकर या अन्य स्थान पर आसानी से योग कर सकते है|
  •  योग आपको स्वस्थ रखने के साथ साथ आपके शरीर के विकारो को भी दूर करता है|
  •  आज के समय में डॉक्टर भी बीमारी से दूर रहने के लिए योग की सलाह देते है|
  •  योग करने से शरीर में विकारो से लड़ने की क्षमता में वृद्धि होती है|
  •  योग आपकी मानसिक शक्ति को बढ़ाता है| जिससे आपकी तार्किक और सोचने की क्षमतामें भी वृद्धि होती है

Yoga Sutra In Hindi


 Difference Between Yoga And Gym-स्वस्थ जीवन के लिए क्या जरुरी है योग या जिम?

योग सूत्र का वर्णन दार्शनिक शास्त्रों में मिलता है| हमारे प्राचीन छह दर्शन शास्त्रों में योग शास्त्र को सभी का मूल ग्रन्थ माना गया है| प्राचीन काल से ही स्वस्थ जीवन और स्वस्थ शरीर को प्रमुख रूप से महत्व दिया जाता रहा है|

 Difference Between Yoga And Gym-स्वस्थ जीवन के लिए क्या जरुरी है योग या जिम?


योग सूत्र के प्रमुख सूत्रों की विस्तृत जानकारी से आप स्वस्थ जीवन का आनद ले सकते है| और निरोग रहकर सुखी जीवन जी सकते है और यह केवल योगदर्शन में दिए योग सूत्रों को जानकर उनका पालन करने से संभव होगा| अगर आप एक सुखी एवं उन्नत जीवन जीने की आकांक्षा रखते है| तो आपके लिए योग और उसके योगसूत्र लाभकारी सिद्ध होंगे| नीचे आपको योगसूत्र की विस्तृत जानकारी दे रहा हूँ |जिनको अपनाकर आप निरोगी स्वस्थ और मानसिक रूप से भी समृद्ध रहने में सयहता देगा|
पतंजलि को योग का पितामाह माना जाता है| उनके द्वारा योग को चार सूत्रों में विभक्त किया
गया है|
  • समाधी 
  • साधन 
  • विभूति 
  •  कैवल्य
 Difference Between Yoga And Gym-स्वस्थ जीवन के लिए क्या जरुरी है योग या जिम?

Importance Of Yoga For Students In Hindi

प्राचीन समय में गुरुकुलों में योग को प्रमुख रूप से कराया जाता था| प्रचीन काल से ही  Importance Of Yoga For Student का प्रभाव छात्र जीवन पर रहा है| फिर धीरे धीरे यह विलुप्त हो गया आज भी स्कूलों में प्रातः काल योग अभ्यास कराया जाता है| जिससे उनकी शारीरिक एवं मानसिक क्षमता में वृद्धि उचित रूप से हो| जिस प्रकार नीव को मजबूत करने से घरो में मजबूती होती है| यही नियम हमारे जीवन पर भी लागू होता है| अगर छात्र जीवन में योग अपनाया जाता है|बच्चो की सभी प्रकार की गतिविधियों चाहे वो शारीरिक हो या मानसिक उनकी वृद्धि के लिए Importance Of Yoga For Student का महत्व बढ़ जाता है|

 Difference Between Yoga And Gym-स्वस्थ जीवन के लिए क्या जरुरी है योग या जिम?

Yoga Tips in Hindi

  •            योग करने का सबसे उत्तम समय प्रातः काल का होता है|
  •            प्रातः काल योग करने से प्रभावी परिणाम प्राप्त होते है|
  •          योग खुले स्थान पर करने से मानसिक क्षमता का विकास शीघ्रता से होता है|
 Difference Between Yoga And Gym-स्वस्थ जीवन के लिए क्या जरुरी है योग या जिम?

योग और जिम की तुलना करने में योग करने का उपाय चमत्कारी सिद्ध होता है| जिसके द्वारा द्रुतगामी परिणाम प्राप्त होते है| योग आपके स्वस्थ रखने के साथ साथ आपको निरोगी एवं मानसिक रूप से सम्बल करता है|जिससे हम अन्य लोगो की तुलना में अधिक ऊर्जावान रह सकते है|योग शारीरिक मानसिक दोनों क्षमताओं को बढ़ाता है|


Tags- Difference Between Yoga And Gym Yoga Tips In Hindi,Yoga Sutra In Hindi,Importance Of Yoga For Student In Hindi.

Comments

Popular posts from this blog

Ego और Attitude: क्या से क्या बना देते है ये 2 शब्द आप को? Article In Hindi

The Exorcism Of Emily Rose Real Story- Anneliese Michel की एक सच्ची कहानी