Khud Ko Kaise Badle | खुद को कैसे बदलें


Khud Ko Kaise Badle | खुद को कैसे बदलें

Khud Ko Kaise Badle | खुद को कैसे बदलें 

How To Change Yourself In Hindi Means Khud Ko Kaise Badle - प्रतिदिन हम ऐसे लोगों के संपर्क में आते रहते है। जिनकी की कोई बात या तो हमें अच्छी लगती है या बहुत बुरी। यदि किसी व्यक्ति की कोई बात प्रभावित करने लायक है, तो जाहिर सी बात है कि हम उसके जैसा बनने चाहेंगे। और यदि हम उसकी किसी बात से नाखुश है, तो हम उस व्यक्ति को बदलने की सलाह दे देते है। लेकिन क्या हम जानते है की Khud Ko Kaise Badle

लिहाजा हम बात करने वाले है कि खुद को कैसे बदलें

Khud Ko Kaise Badle - जब हम खुद को बदलने की बात करते है। तो कई जगह आपने पढ़ा होगा की कैसे खुद को बदला जाये किन्तु शायद आप यह नहीं समझ पाते है। कि खुद को पूरी तरह कभी नहीं बदला जा सकता है क्योंकि कुछ चीजें हमारे अंदर प्राकृत रूप से होती है। जिन्हें बदला जा सकता है, किंतु उसका नुकसान ही होगा।



How To Change Yourself Completely? Khud Ko Kaise Badle

खुद को बदलना तो आप चाहते है किंतु खुद में क्या बदलना है। क्या बदलना चाहिए ये बात शायद आप सोच रहे हों। साधारण सी बात यह है कि खुद को बदलने के लिए मुख्य श्रेणी बाहरी और आंतरिक बदलाब आप चाह रहे होंगे हम पहले इन दोनों श्रेणियों को संझेप में समझ लेते है।

बाहरी बदलाब | How To Change Yourself

Khud Ko Kaise Badle | खुद को कैसे बदलें

खुद को बदलने के लिए बाहर से नजर आने वाली चीजें हमारा पहनावा, वेश भूषा प्रमुख बदलाब है। इसके संबंध में कहा भी गया है जैसा देश वैसा भेष। मतलब आप जिस भी जगह पर रह रहे है आपको उसी स्थान के अनुसार भेष धारण करना होगा। क्योंकि आज के दौर में सबसे पहले व्यक्ति को उसके पहनावे से परखने की कोशिश समाज द्वारा की जाती है।

किसी को उसके पहनावे से परखना है तो गलत आदत किन्तु समाज में यह चलन बन गया है। बदलाब कि यह श्रेणी आज से नहीं प्राचीन समय से है। पहले भी लोग विवाह समारोह , युद्ध स्थिति , कार्यक्रमों में अलग अलग तरीके से पोशाक धारण करते थे। पेशे और कार्यक्षेत्र के अनुसार उनके साज श्रृंगार होते थे मतलब पहले के समय में भी श्रृंगार का महत्व उतना ही था।

How To Change Yourself In Hindi

मैं प्रचीन समय की कहानी नहीं सुना रहा यहाँ समझने की जरुरत है कि खुद को कैसे बदलें। पहले के समय में लोग अपने कार्य और स्थान के अनुसार साज श्रृंगार करते थे। वही मैं आपका समझना चाहता हूं कि आज भी हमारे लिए इसी बदलाब की आवश्यक्ता है की उसी प्रकार से वस्त्र धारण करें या उसी पोशाक को स्वीकार करें जिससे हमारे कार्यक्षेत्र की झलक मिले।

आंतरिक बदलाब - खुद को कैसे बदलें

Khud Ko Kaise Badle | खुद को कैसे बदलें

यदि हम खुद को बाहर से बदल लेंगे और अंदर से कोई बदलाब नहीं करेंगे तो हम सोने के पानी चढ़े हुए आभूषणों की तरह हो जायेंगे। जिनका एक दो बार दिखाबे के लिए उपयोग किया जा सकता है।

हम बात खुद को बदलने की कर रहे है। तो जरुरी बात है कि हम हमारे व्यवहार हमारी आदतों हमारे कार्य करने के तरीके को कुशल बनाएं।

खुद को बदलने के लिए बाहर से जितना भी आकर्षित दिखाने का प्रयास किया जाता है। वह निरर्थक हो जाता है यदि हम अंदर से खुद को नहीं बदलते है।

व्यक्ति का आंतरिक बदलाब उसके व्यवहार आचरण पर निर्भर करता है।

फ़िलहाल कुछ आसान तरीकों से समझते है कि खुद को बदलने के लिए व्यवहार और आचरण कैसे कारगर होता है। व्यक्तिगत रूप से परिवर्तन स्वयं की चेतना का रूप है। इसके लिए खुद को तैयार करना और कुछ चीज़ों को त्याग करना शामिल है।


ईमानदारी | Khud Ko Kaise Badle

व्यवहारिकता में ईमानदारी बेहद सामान्य एवं कारगर रूप है। ईमानदारी आप अपने शिक्षक अपने बॉस अपने सहपाठियों अपने कार्यक्षेत्र में सहयोगियों सभी के साथ ईमानदार रहकर व्यवहार कुशल बन सकते है। ईमानदारी से भरोसा मजबूत होता है। और एक बार आप किसी के यकीन जीत लेते है। तो आपके व्यवहार में एक कुशलता तो आ ही जाती है।

प्रेमपूर्ण व्यवहार | Inspirational Articles In Hindi

Khud Ko Kaise Badle | खुद को कैसे बदलें

जब आप किसी से पहली बार मिलते है तो आपको थोड़ी झिझक होती है। साथ ही आप उस वगक्ति से गंभीर होकर भी नहीं मिलते जो आपके लिए आम बात होगी। किन्तु आपसे मिलने वाला कोई भी व्यक्ति शायद इसे आम बात न समझे और आपके मिलने के तरीके आपके बात करने के तरीके को वह नोटिस कर रहा हो। जो आपके लिए अच्छी बात तो नहीं होगी क्योंकि कई बार आप किन लोगों से कैसे मिलते है। ये आप याद भी नहीं रखते पर लोग इसे ध्यान में रखते है। भविष्य में कभी मिलते है, तो आपको उसी तरीके से परखा जाता है। यह छोटी छोटी चीज़े हमारे व्यवहारिक जीवन में परिवर्तन की अलग अलग श्रेणी होती है।

अच्छी और सकारात्मक सोच | The Power Of Positive Thinking In Hindi

Khud Ko Kaise Badle | खुद को कैसे बदलें

जब आप अच्छा सोचेंगे तो यह आपके व्यवहार में कुशलता लाता है। जब आप किसी के बारे में अच्छा सोचते है तो आपको खुद के अंदर एक सकारात्मक परिवर्तन नजर आएगा। सकारात्मक सोच से आपके अंदर एक बदलाब आयेगा जो हमेशा करियर में, रिश्तों में और अध्ययन में हमेशा काम आएगा।

खुद को कैसे बदलें Khud Ko Kaise Badle की इस Inspirational Articles In Hindi सीरीज में आपको खुद को बदलने के और कई सारे तरीके और आदतों के बारे में चर्चा करेंगे। पड़ते रहिये और हमसे जुड़े रहने के लिए सब्सक्राइब करना ना भूलें। धन्यवाद

Read More Motivational And Inspirational Articles
Tags:- Khud Ko Kaise Badle, How To Change Yourself, How To Change Yourself Completely, Motivational Articles In Hindi, Inspirational Articles In Hindi

Post a Comment

0 Comments

© 2019 All Rights Reserved By Prakshal Softnet